यह पोर्टल छावनी के निवासियों को नियमों, प्रक्रियाओं एवं जटिल शब्दावली को आसान बनाने का एक प्रयास है ताकि उनसे बोझिल सरकारी सूचनायें प्राप्त करने की बजाय उन्हें ही सरकार की प्रक्रिया में सक्रिय सहभागी बनाया जा सके । इस पोर्टल में यह प्रयत्न किया गया है कि छावनी प्रशासन द्वारा प्रायः उपयोग में लाए जा रहे अनर्थक शब्दों जैसे कि ओल्ड-ग्रांट, फ्री-होल्ड-कन्वर्सन, जी.एल.आर. तथा कंपोजिसन आदि जटिल शब्दों को आम भाषा में प्रयोग में लाया जा सके, जो काफी समय से छावनी के निवासियों के लिए जटिल बने हुए हैं ।

वैबसाइट में कई उपयोगी विशेषतायें शामिल की गईं हैं, जैसेकि ऑनलाइन शिकायतें भेजना, उनकी छानवीन करना एवं विचार प्रकट कर फीडबैक देना आदि । इस के अतिरिक्त दैनिक आधार पर, मूलभूत सेवाओं जैसेकि जल-आपूर्ति, सफाई, गलियों में रौशनी (स्ट्रीट-लाइट) स्वास्थ्य एवं पाठशालाओं में शिक्षा से संबंधित समस्याओं का समाधान भी इसके माध्यम से हो सकता है, जिसके लिए संबंधित कर्मचारियों के पते, संपर्क-सूत्र तथा कार्य की समयावधि, जिसमें समस्या का समाधान किया जाना है, का विवरण दिया गया है ।

आशा की जाती है कि इस पोर्टल की शुरुआत छावनी के सामान्य निवासियों के लिए बहुत लाभकारी सिद्ध होगी तथा छावनी परिषद् भी पोर्टल के प्रयोगकर्ताओं से प्राप्त सूचनाओं/सुझावों से लाभांन्वित होंगी, जिससे रोजमर्रा की कठिनाइयों को दूर करने में सहायता मिलेगी तथा इसके कार्यकलापों में सुधार होगा ।
 
हेमंत यादव, भा.र.सं.से.
मुख्य अधिशासी अधिकारी